मृत्यु की अनिवार्यता पर विजय

श्रीअरविंद आश्रम की श्रीमाँ

जब शरीर बढ़ती हुई पूर्णता की ओर सतत प्रगति करने की कला सीख ले तो हम मृत्यु की अनिवार्यता पर विजय पाने के पथ पर अग्रसर होंगे ।

संदर्भ : श्रीमातृवाणी (खण्ड-१६)

सबल और स्वस्थ शरीर

श्री अरविंद आश्रम की श्री माँ टेनिस का खेल

यह न भूलो कि हमारे योग में सफल होने के लिए तुम्हारे पास सबल ओर स्वस्थ शरीर होना चाहिये ।

इसके लिए, शरीर को व्यायाम करना चाहिये, तुम्हारा जीवन सक्रिय ओर नियमित होना चाहिये, तुम्हें शारीरिक काम करना चाहिये, अच्छी तरह खाना और सोना चाहिये ।

अच्छे स्वास्थ्य में ही रूपान्तर की ओर जाने का मार्ग मिलता है ।


सन्दर्भ : माताजी के वचन ( भाग – ३ )