मृत्यु का सुझाव

मृत्यु का यह सुझाव “अहं” से आता है जब वह यह अनुभव करता है कि उसे जल्दी ही पद छोड़ना पड़ेगा। शांत और निर्भीक रहो। सब कुछ ठीक हो जायेगा।

संदर्भ : माताजी के वचन (भाग-३)

प्रातिक्रिया दे