हस्तक्षेप

एक सामान्य नियम के रूप में ज्यादा अच्छा यह है कि जो चीजें तुम्हारे काम से सम्बन्धित नहीं हैं उनमें हस्तक्षेप न करो ।

संदर्भ : माताजी के वचन (भाग-२)

प्रातिक्रिया दे