श्रीअरविंद भविष्य के हैं

श्रीअरविन्द भविष्य के हैं;  वे भविष्य के सन्देशवाहक हैं । वे अब भी हमें ‘ भागवत संकल्प ‘ द्वारा निर्मित उज्ज्वल भविष्य को जल्दी चरितार्थ करने के लिए जिस राह का अनुसरण करना चाहिये वह दिखलाते हैं ।

जो मानवजाति की प्रगति और भारत की ज्योतिर्मयी नियति के लिए सहयोग देना चाहते हैं, उन सबको सूक्ष्मदर्शी अभीप्सा और प्रबुद्ध कार्य के लिए मिलकर काम करना चाहिये ।

संदर्भ : माताजी के वचन (भाग – १)

 

प्रातिक्रिया दे