सही नेतृत्व

उनके काम जिनका काम शासन या नेतृत्व करना है |

जब तुम लोगों को खुश करना चाहते हो तो तुम चीजें जैसी हैं वैसी चलने देते हो, और प्रतीक्षा करते हो कि प्रकृति अपनी प्रगति मनुष्यों पर आरोपित करे । लेकिन यह सृष्टि का सत्य नहीं है । मनुष्य का सच्चा उद्देश्य है प्रकृति पर अपनी प्रगति आरोपित करना ।

संदर्भ : माताजी के वचन (भाग – 3)

प्रातिक्रिया दे