भौतिक चीजों का खयाल

 

माताजी, मैं अपनी चीजें बार-बार क्यों खोता रहता हूं ?

क्योंकि तुम चीजों को काफी हद तक अपनी चेतना में नहीं रखते

संदर्भ : माताजी के वचन (भाग – २)

 

प्रातिक्रिया दे